ऑड-ईवन स्कीम का ब्लूप्रिंट

दिल्ली में 1 से 15 जनवरी तक ऑड-ईवन स्कीम को लागू किया जा रहा है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को इस स्कीम का ब्लूप्रिंट जारी कर दिया। सीएम ने कहा कि दिल्ली में पल्यूशन की समस्या बहुत गंभीर हो गई है और पिछले कुछ दिनों में दिल्ली सरकार ने इस समस्या से निपटने के लिए मजबूत कदम उठाए हैं। सरकार कठोर कदम उठाने से भी नहीं हिचकी है, जो दिखाता है कि आम आदमी पार्टी सरकार ने सही नीयत के साथ सही दिशा में ये कदम उठाए हैं। सीएम ने बताया कि ऑड-ईवन स्कीम को लेकर सभी अप्रूवल ले ली गई है। उपराज्यपाल से भी अप्रूवल ली गई है और मंडे को नोटिफिकेशन जारी हो जाएगा। सरकार ने ड्राफ्ट नोटिफिकेशन तैयार कर लिया है। सीएनजी सर्टिफिकेट वाले वीइकल, टू वीलर्स, खुद गाड़ी ड्राइव करने वाली महिलाओं, डिसेबल्ड को इस स्कीम से बाहर रखा गया है। स्कीम का उल्लंघन करने पर 2000 रुपये का जुर्माना भरना होगा। सीएम ने कहा कि 15 दिन के ट्रायल के बेस पर यह स्कीम लागू हो रही है और क्या नतीजे आते हैं, इसके बेस पर इस स्कीम के फ्यूचर के बारे में फैसला लिया जाएगा। सरकार इस स्कीम को फेज वाइज लागू करना चाहती है। ब्लूप्रिंट जारी करने के मौके पर डिप्टी सीएम मनीष सिसौदिया, ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर गोपाल राय, पीडब्ल्यूडी मिनिस्टर सत्येंद्र जैन और टूरिज्म मिनिस्टर कपिल मिश्रा भी मौजूद थे।
1-15 जनवरी : सुबह 8 से रात 8 बजे तक ऑड-ईवन स्कीम 1 से 15 जनवरी तक ट्रायल के तौर पर चलेगी और सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक यह स्कीम लागू होगी। संडे को इस स्कीम के दायरे से बाहर रखा गया है यानी संडे को ऑड-ईवन दोनों तरह की कारें चल सकेंगी। दिल्ली में करीब 19 लाख प्राइवेट कार रजिस्टर्ड हैं ऑड-ईवन स्कीम लागू होने से रोजाना करीब 9 से 10 लाख गाड़ियों पर ब्रेक लगेगा। एनसीआर और दूसरी स्टेट के रजिस्ट्रेशन की नंबर प्लेट वाली कारों पर भी यह स्कीम लागू रहेगी। यानी दिल्ली से होकर गुजरने वाली एनसीआर व दूसरी स्टेट की गाड़ियों को यह फॉर्म्युला फॉलो करना होगा।
डेट के हिसाब से चलेंगी कारें जिन गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन नंबर की लास्ट डिजिट ऑड होगी, वे ईवन डेट पर नहीं चल सकेंगी। इसी तरह से ईवन डिजिट वाली गाड़ियां ऑड डेट पर नहीं चल सकेंगी। जिन गाड़ियों के नंबर की लास्ट डिजिट 1, 3, 5, 7, 9 हैं, वे 1 जनवरी को चलेंगी। उसके बाद 0, 2, 4, 6, 8 नंबर की कार अगले दिन यानी 2 जनवरी को चलेंगी। इसी तरह से ऑड नंबर की गाड़ी उसके बाद 5, 7, 9 जनवरी को चलेंगी। ईवन नंबर की कार 2, 4, 6, 8 जनवरी को चलेंगी।
टू-वीलर्स को फिलहाल स्कीम से बाहर रखा गया सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि 1 से 15 जनवरी तक लागू किए जा रहे ट्रायल फेज में अभी टू-वीलर्स को शामिल नहीं किया गया है। सीएम ने कहा कि यह बहुत बड़ी स्कीम है और एक बार शुरुआत जरूरी है। उन्होंने कहा कि सालों से ऑड-ईवन स्कीम की चर्चा की जा रही थी, लेकिन कोई भी सरकार इसको लागू करने की हिम्मत नहीं कर सकी। एक बार स्कीम शुरू हो जाएगी तो अगले फेज में टू-वीलर्स को भी इस स्कीम के दायरे में लाया जाएगा। पब्लिक ट्रांसपोर्ट की कैपिसिटी को भी बढ़ाने की कोशिश की जा रही है और ऑटो कैपिसिटी भी बढ़ाई जा रही है। ऑटो के दस हजार नए परमिट जारी किए जा रहे हैं।
1200 किमी पर बस लेन मार्किंग होगी सीएम ने बताया कि 100 फुट से बड़ी सड़कों पर बस लेन मार्किंग की जा रही है। अभी तक 400 किमी पर बस लेन मार्क हो गया है। टोटल 1200 किमी पर बस लेन मार्किंग होनी है। सीएम ने बताया कि बस को अपनी लेन में ही चलना होगा और अगर लेन से बाहर बस चली तो चालान होगा। बस अपनी लेन से बाहर नहीं चल सकती, हालांकि गाड़ी, बस लेन में चल सकती है लेकिन वहां पर कार खड़ी नहीं हो सकती। बस लेन पर बाधा पैदा करने वाली कारों का हेवी चालान होगा।
महिलाओं को छूट महिलाओं को इसके दायरे से बाहर रखा गया है। खुद कार चलाने वाली महिलाओं को इस स्कीम से छूट मिलेगी। इसके अलावा 12 साल तक के बच्चे को लेकर जा रही महिलाएं को इस स्कीम के दायरे से बाहर रखा गया है। मेडिकल इमरजेंसी की स्थिति में भी लोगों को छूट मिलेगी। अगर किसी कार में कोई पेशंट है तो विश्वास के आधार पर उस कार चालक को इस स्कीम से छूट मिल सकेगी। सीएम ने वीआईपी कैटिगरी में आने वाले वीइकल की भी लिस्ट जारी की है, जिन्हें इस नियम से छूट होगी। राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, भारत के चीफ जस्टिस, केंद्रीय मंत्री के वीइकल भी इस लिस्ट में शामिल हैं। केजरीवाल ने बताया कि वीआईपी के काफिले को भी इस स्कीम से छूट दी गई है, लेकिन दिल्ली के सीएम भी ऑड-ईवन स्कीम को फॉलो करेंगे और दिल्ली सीएम का काफिला भी इस स्कीम के दायरे में होगा। दिल्ली कैबिनेट के मंत्री कार पूलिंग के जरिए अपने ऑफिस जाएंगे। सीएम ने बताया कि 1 से 15 जनवरी के बीच अडिशनल बसें होंगी। मेट्रो के फेरे भी बढ़ेंगे।
सीएनजी स्टिकर जरूरी होगा सीएनजी वीइकल, इलेक्ट्रिक वीइकल और हाईब्रिड वीइकल भी इस स्कीम से बाहर होंगे। आईजीएल का स्टिकर सीएनजी वीइकल पर लगाना होगा। सीएनजी लगी कारों को ये स्टीकर दिखाने होंगे। सरकार द्वारा जल्दी ही एक ‘कारपूल ऐप’ जारी किया जाएगा ताकि लोग इस ऐप के जरिए कार शेयर कर सकें। सीएम ने लोगों से अपील की कि अपने दोस्तों, रिश्तेदारों का ग्रुप बनाकर कार पूलिंग करें। सुरक्षा को भी ध्यान में रखें और अनजान लोगों के साथ कार पूलिंग न करें।
30 दिसंबर को स्कूली बच्चों को शपथ दिलाएंगे सीएम सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए वे 30 दिसंबर को दिल्ली के स्कूली बच्चों को शपथ दिलवाएंगे। बच्चे शपथ लेंगे कि वे अपने पैरंट्स से ऑड-ईवन स्कीम फॉलो करने के लिए कहेंगे। बच्चों की अपील का बहुत असर होता है। इसके अलावा आरडब्ल्यूए से भी अपील की जाएगी कि वे सोसायटी के गेट पर इस स्कीम के बारे में बताएं और इस स्कीम को फॉलो करने के लिए कहें। ‘एनसीसी, एनएसएस और सिविल डिफेंस के करीब 10 हजार वॉलंटियर्स इस स्कीम में शामिल होंगे और नियमों को न मानने वाले लोगों को समझाएंगे। उनकी सोच में बदलाव के लिए गुलाब भेंट किया जाएगा।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s